MBA Aur PGDM Me Kya Antar Hai : 5 Differences जरुर जान लें

नमस्कार दोस्तों आज हम एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है, (MBA Aur PGDM Me Kya Antar Hai) और एमबीए और पीजीडीएम से जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी प्राप्त करेगें। जब बच्चे management के course करने के बारे सोचते हैं तो उन्हें इस बारे में काफी doubts आते हैं की एमबीए और पीजीडीएम कोर्स में से बेहतर कौन हैं। इन दोनो में से कौन से कोर्स करने से ज्यादा सैलरी मिलेगी।

mba or pgdm me kya antar hai

एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है..? आइए सबसे पहले हम इनके फुल फॉर्म जानते है। क्योंकि MBA और PGDM के full form से ही आपको इसके बेसिक कोर्स की जानकारी समझ आ जाएगी।

  • MBA full formMaster in Business Administration
  • PGDM full formPost Graduate Diploma in Management

MBA Kya hai

MBA क्या हैं ..?  Master in Business administration (MBA)  अर्थात यह मैनेजमेंट के क्षेत्र में students को मास्टर डिग्री देता हैं। इस कोर्स को करने के लिए आपके पास स्नातक यानी की ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए। ग्रैजुएशन की डिग्री आपकी किसी भी stream (Science, Commerce, Arts) से हो आप एमबीए के लिए elligible हो जाते हैं। MBA के लिए बच्चे ऐसा बिल्कुल ना सोचें की वो साइंस या किसी खास स्ट्रीम से पढ़े हो तो ही एमबीए कर सकते हैं। ऐसा बिल्कुल नही हैं। किसी भी स्ट्रीम के बच्चें इसे कर सकते हैं।

PGDM kya hai

PGDM क्या हैं ..?  Post Graduate diploma in Management (PGDM) दोस्तों यह मास्टर कोर्स नहीं बल्कि यह एक डिप्लोमा कोर्स हैं। लेकिन फिर भी इसे करने के लिए आपको स्नातक अर्थात ग्रेजुएट होना आवश्यक हैं। बिना ग्रेजुएशन के आप पीजीडीएम नहीं कर सकते हैं। अब स्टूडेंट्स के मन में सबसे पहला सवाल यह आता हैं कौन सा कोर्स अच्छा हैं पीजीडीएम या एमबीए। क्योंकि डिप्लोमा कोर्स सुनते ही उन्हें ये लगता है की एमबीए पीजीडीएम से ज्यादा अच्छा हैं। तो क्या बच्चों को ये सही लगता हैं क्या सच में एमबीए पीजीडीएम से ज्यादा अच्छा हैं। या पीजीडीएम एमबीए से ज्यादा अच्छा हैं।

अलग अलग जगह और अलग अलग लोगों से आधी अधूरी जानकारी पा कर यह दुविधा दूर नहीं हो पाती हैं। इसलिए हमारे आज के इस आर्टिकल में हमनें पूरी जानकारी को एक ही जगह पर रखने की कोशिश की हैं। इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद आप यह अच्छे से समझ जायेंगे कि एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है। अतः आपसे निवेदन हैं की इस आर्टिकल को पूरा पढ़े और हमे comment कर के बताए की आपको ये आर्टिकल कैसा लगा।

MBA aur PGDM me kya antar hai

एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है, ये इन पांच points से आप समझ सकते हैं।

  1. Colleges affiliation and accredetion requirement  
  2. Academic difference  
  3. Curriculum and syllabus 
  4. Credit of the course 
  5. Salary and Jobs 

 

MBA Aur PGDM Me Kya Antar Hai

बच्चे जब पीजीडीएम या एमबीए करने की सोच रहे होते हैं, तो उन्हें मुख्य रूप से इन्हीं पांच बिंदुओं को लेकर के डाउट्स आते हैं। जैसे कि वह जिस कॉलेज में इन courses के लिए एडमिशन लेंगे, उन कॉलेज के affiliation and accredetion की क्या requirement हैं। यानी की एमबीए और पीजीडीएम के लिए संबंधित कॉलेज या उस institute की क्या एफिलिएशन requriment full fill होती है की नही ।

अगर वह कॉलेज इंस्टिट्यूट पीजीडीएम ऑफर कर रही है तो उसे कॉलेज का क्या affiliation है या फिर अगर वह कॉलेज एमबीए का कोर्स ऑफर कर रही है तो एमबीए करने के लिए उसे कॉलेज या इंस्टीट्यूट की affiliation क्या हैं । वह कॉलेज वह इंस्टीट्यूट रिक्वायर्ड affiliation and accreditation को full fill करता है। दूसरी बात की दोनों के एकेडमिक्स में क्या अंतर है।

तीसरी बात कहें तो एमबीए और पीजीडीएम को लेकर पढ़ाई में क्या अंतर रहता है। उनके करिकुलम एक्टिविटीज उनके सिलेबस को लेकर क्या अंतर होता है। और आगे चलकर के उनके सिलेबस और करिकुलम एक्टिविटीज उनके भविष्य को किस प्रकार प्रभावित करते हैं ।

चौथी बात उनके द्वारा की जाने वाले कोर्स की क्रेडिट क्या है । मार्केट में उसका क्या वैल्यू है मार्केट में मौजूद कंपनी उनके कोर्सेज को कितनी वैल्यू करती है क्या पीजीडीएम का ज्यादा वैल्यू है या फिर एमबीए कोर्स का ज्यादा वैल्यू है।

पांचवी और अंतिम बात की इन दोनों को इसमें से किस कोर्स को करने के बाद बच्चों को सैलरी ज्यादा मिलती है क्योंकि दोनों कोर्स में से बच्चे उसी को करना चाहेंगे जिसमें आगे चलकर उन्हें ज्यादा सैलरी मिले। तो इन्हीं पांच पॉइंट्स को लेकर के हम नीचे डिस्कस करेंगे और आपके मन की सारे डाउट्स को क्लियर करने की कोशिश करेंगे।

Colleges affiliation and accredetion requirement

जैसा कि हमने ऊपर बताया है की MBA एक management के क्षेत्र मे दी जाने वाली Master Degree. यह degree केवल UGC approved universities के द्वारा ही दी जा सकती हैं। या फिर वैसे institutes जो UGC approved universities से affiliated हो केवल वो ही एमबीए की डिग्री दे सकते हैं और उनके curriculum activities UGC यानी की University Grant Commission से accredited होना चाहिए I

वही दूसरी तरफ पीजीडीएम के बारे बात करे तो पीजीडीएम एक graduation के बाद की जाने वाली डिप्लोमा कोर्स है। वैसे institutes या colleges जो AICTE यानी की All India Institute of Technical Education से approved हैं वो स्टूडेंट्स को PGDM course offer करते हैं। पीजीडीएम के लिए यूजीसी का affiliation होने की आवश्यक्ता नहीं हैं।

Academic Differences

एमबीए और पीजीडीएम में अंतर academic differences को लेकर कहे तो दोनों ही कोर्सेज students को Managerial and administrative skill के लिए तैयार करते है, दोनों को objective एक ही होता हैं लेकिन PGDM market and industry driven policy को follow करता हैं, और MBA अपने ट्रेडिशनल पैटर्न को follow करता हैं I हालाकि अगर आप foreign की ओर रुख करते हैं तो PGDM को एक Diploma certificate की value दी जाती हैं जबकि MBA को degree के रूप में देखा जाता हैं I

Curriculum & Syllabus

जैसा की हमने ऊपर बताया की PGDM के  curriculum & syllabus market and industries demand के अनुसार बदलते रहते है और ये industries को present requirement के according skill prepare करने के लिए काम करते हैं I MBA क्योकि यूनिवर्सिटीज (UGC) driven होती हैं, इसलिए यूनिवर्सिटीज इतनी जल्द अपने सिलेबस में किसी प्रकार का बदलाव करने से परहेज करती हैं I कही न कई ये students को थोडा पीछे कर देता है पर समय के साथ MBA की tremendous एक्टिविटीज की वजह से students इसे भी रिकवर कर लेते हैं I

Credit of the course

एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है, (MBA Aur PGDM Me Kya Antar Hai) आइये इसे अलग – अलग aspects में bullet points के helps से समझते हैं I

  • सामान्य तौर पर देखे तो दोनों ही कोर्सेज को एक सामान क्रेडिट दी जाती है I
  • लेकिन जब हम विदेशों में मूव करते है तो MBA को डिग्री और PGDM को Diploma के रूप में देखा जाता हैं I
  • MBA students को market से updated नहीं रखता हैं I
  • PGDM students को market से updated रखता हैं I
  • MBA का झुकाव projects and internship के अलावे बात करे तो practical way को समझते हुए theoretical way की ओर ज्यादा होता हैं I
  • PGDM का झुकाव practical way की ओर ज्यादा होता हैं I

Job and Salary 

आइये Table की मदद से ऊपर लिखी बातों को summary के रूप में आसान भाषा में समझने की कोशिश करते हैं I

Sl.No. PGDM MBA
1.

PGDM full form – Post Graduate Diploma in Management

MBA full form – Master in Business Administration

2. PGDM एक डिप्लोम कोर्स हैं I MBA एक मास्टर डिग्री हैं I
3. PGDM offer करने वाले institutes या colleges का AICTE से approved होना आवश्यक  हैं I MBA offer करने वाले institutes या colleges का UGC से affiliation होना आवश्यक  हैं I
4. PGDM की पढ़ाई में आपको practical knowledge ज्यादा देखने को मिलेगी, इंडस्ट्रीज और market में हो रहे present senerio को इसमें अच्छे से पढ़ाया जाता हैं I MBA हमें थ्योरेटिकल knowledge ज्यादा देता हैं और एक प्रकार के traditional pattern को अपनी पढ़ाई में follow करता हैं I
5. Market के present situation और demand के अनुसार best career opportunities provide करता हैं I Aspirannts को तेजी से आगे बढ़ने और कम्पनीज में सीनियर पोजीशन में जाने में help करता हैं I
6. Market and Industries के demand के अनुसार अपने सिलेबस को change करता रहता हैं, जो की value addition का काम करती हैं I MBA में पढाई जाने वाली सिलेबस Market and Industries के अनुसार नहीं बदलते हैं I
7. दोनों की ही importance equal हैं, और  कंपनियां इसके डिग्री या सर्टिफिकेट के आधार पर भेदभाव नहीं करती है बल्कि आपने ये कोर्स कहाँ से किया है इस पर ज्यादा फोकस करती हैं I दोनों की ही importance equal हैं, और  कंपनियां इसके डिग्री या सर्टिफिकेट के आधार पर भेदभाव नहीं करती है बल्कि आपने ये कोर्स कहाँ से किया है इस पर ज्यादा फोकस करती हैं I

 

Also read :

Conclusion

अगर आपने इस पुरे आर्टिकल को पढ़ा है तो अब आप ये समझ गए होंगे की एमबीए और पीजीडीएम में क्या अंतर है, (MBA Aur PGDM Me Kya Antar Hai), फिर भी मैं आपको यही कहूंगा की  एमबीए और पीजीडीएम आप दोनों में से किसी भी कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते है आपको अपने करियर ग्रोथ में इसमें से कही भी कोई अंतर नहीं आयगी क्योकि कंपनियां आपके स्किल को देखते हैं ना की आपके डिग्री या सर्टिफिकेट्स को I

दोस्तों आपसे निवेदन है की इस article को अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करे ये हमें motivation प्रदान करता है और अगर आपको अपने करियर और पढ़ाई से सम्बंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए हो तो हमें अवश्य बताये I हमारे लिए कोई सुझाव या फिर किसी भी प्रकार की कोई शिकायत हो तो आप हमें हमारे contact us page में जाकर हमशे संपर्क कर सकते या आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के भी बता सकते हैं I 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *